तो जानें महिला निवेशकों के लिए शानदार टिप्स

अस्वीकरण :
इस वेबसाइट पर दी की गई जानकारी, प्रोडक्ट और सर्विसेज़ बिना किसी वारंटी या प्रतिनिधित्व, व्यक्त या निहित के "जैसा है" और "जैसा उपलब्ध है" के आधार पर दी जाती हैं। Khatabook ब्लॉग विशुद्ध रूप से वित्तीय प्रोडक्ट और सर्विसेज़ की शैक्षिक चर्चा के लिए हैं। Khatabook यह गारंटी नहीं देता है कि सर्विस आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगी, या यह निर्बाध, समय पर और सुरक्षित होगी, और यह कि त्रुटियां, यदि कोई हों, को ठीक किया जाएगा। यहां उपलब्ध सभी सामग्री और जानकारी केवल सामान्य सूचना उद्देश्यों के लिए है। कोई भी कानूनी, वित्तीय या व्यावसायिक निर्णय लेने के लिए जानकारी पर भरोसा करने से पहले किसी पेशेवर से सलाह लें। इस जानकारी का सख्ती से अपने जोखिम पर उपयोग करें। वेबसाइट पर मौजूद किसी भी गलत, गलत या अधूरी जानकारी के लिए Khatabook जिम्मेदार नहीं होगा। यह सुनिश्चित करने के हमारे प्रयासों के बावजूद कि इस वेबसाइट पर निहित जानकारी अद्यतन और मान्य है, Khatabook किसी भी उद्देश्य के लिए वेबसाइट की जानकारी, प्रोडक्ट, सर्विसेज़ या संबंधित ग्राफिक्स की पूर्णता, विश्वसनीयता, सटीकता, संगतता या उपलब्धता की गारंटी नहीं देता है।यदि वेबसाइट अस्थायी रूप से अनुपलब्ध है, तो Khatabook किसी भी तकनीकी समस्या या इसके नियंत्रण से परे क्षति और इस वेबसाइट तक आपके उपयोग या पहुंच के परिणामस्वरूप होने वाली किसी भी हानि या क्षति के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।

We'd love to hear from you

We are always available to address the needs of our users.
+91-9606800800

Share Market को सीखने के लिए क्या करें? Basant Maheshwari ने दी बड़ी टिप

Basant Maheshwari Tips: कमाई करने के लिए लोग Share Market को भी अपनाते हैं. शेयर मार्केट से कम टाइम में ही ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है. हालांकि शेयर बाजार को सीखना भी काफी जरूरी है.

alt

5

alt

5

alt

5

alt

5

Share Market को सीखने के लिए क्या करें? Basant Maheshwari ने दी बड़ी टिप

Investment Tips: निवेशकों के लिए शेयर मार्केट (Share Market) कमाई का एक बढ़िया माध्यम बना हुआ है. शेयर मार्केट से कम टाइम में ही ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है. वहीं कोविड के बाद मार्केट में नए इंवेस्टर्स भी काफी आए हैं, जिन्होंने एक बड़ी पूंजी मार्केट में निवेश की है. इसके साथ ही कुछ छोटे निवेशक भी मार्केट में आए हैं. हालांकि शेयर बाजार में निवेश करने से पहले लोगों को कुछ बातों का काफी ध्यान रखना चाहिए, ताकी निवेश की प्रक्रिया को आसान बनाकर मुनाफा भी कमाया जा सके. इसी को लेकर मार्केट एक्सपर्ट बसंत माहेश्वरी (Basant Maheshwari) ने आम निवेशकों को कुछ टिप्स दी है, जिन्हें अपनाकर मार्केट में लंबे वक्त के लिए बने रह सकते हैं.

खुद परखें

Basant Maheshwari Wealth Advisers LLP के को-फाउंडर बसंत माहेश्वरी को शेयर बाजार का कई दशकों का अनुभव है. एक साक्षात्कार में उन्होंने नए इंवेस्टर्स को कई टिप्स दिए हैं. उनका कहना है कि मार्केट के उतार-चढ़ाव को खुद परखना चाहिए. जितना ज्यादा मार्केट को खुद समझेंगे, उतना ही ज्यादा फायदा होगा. साथ ही न्यूजपेपर, किताबों के संपर्क में रहें और मार्केट से जुड़ी छोटी-बड़ी जानकारी से अपडेट रहें.

बाजार को सीखें

बसंत माहेश्वरी का कहना है कि कोविड के बाद शेयर बाजार में कई नए इंवेस्टर्स जुड़े हैं. ऐसे में उन्हें मार्केट की नॉलेज भी पूरी तरह से नहीं है. हालांकि शेयर बाजार को सीखने के लिए नुकसान उठाना पड़े तो वो सही है. जब नुकसान होगा तभी समझ पाएंगे कि क्या गलती नहीं करनी है और इसके साथ ही मार्केट में लंबे वक्त के लिए सर्वाइव कर पाएंगे. ऐसे नुकसान उठाकर, ठोकर लगकर सीखा जा सकता है.

ग्लोबल ट्रेंड

साथ ही बसंत माहेश्वरी का कहना है कि फिलहाल बाजार में गिरावट की उम्मीद नहीं है. माहेश्वरी का कहना है कि ग्लोबल ड्रिवेन रैली में निवेशकों को निवेश करना चाहिए. ग्लोबल ग्रोथ बेहतर है. भारतीय बाजार ग्लोबल ट्रेंड से भी काफी प्रभावित रहता है.

(डिस्कलेमर : किसी भी तरह का निवेश करने से पहले एक्सपर्ट से जानकारी कर लें. जी न्यूज किसी तो जानें महिला निवेशकों के लिए शानदार टिप्स भी तरह के निवेश के लिए आपको सलाह नहीं देता.)

Multibagger Stock Tips: इस अनजान सी कंपनी के शेयर ने कई गुना बढ़ा दी निवेशकों की दौलत, जानें इसके बारे में

Multibagger Stock Tips: इस कंपनी ने बाजार में रजिस्टर होने के बाद से निवेशकों को 2800% से तो जानें महिला निवेशकों के लिए शानदार टिप्स ज्यादा का रिटर्न दिया है.

By: एबीपी न्यूज़ | Updated at : 24 Aug 2021 06:57 PM (IST)

Multibagger Stock Tips: यह जरूरी नहीं कि शेयर बाजार में सिर्फ बड़ी कंपनियां ही कमाल करती हैं. ऐसा कई बार हुआ है जब छोटी कंपनियों ने निवेशकों को मालामाल कर दिया है. आज हम आपको एक ऐसी ही छोटी कंपनी के बारे में बताने जा रहे हैं. इससे पहले जान लें कि शेयर बाजार में पिछले 18 महीनों से लगातार तेजी का माहौल बना हुआ है. निवेशकों को इस तेजी से बहुत फायदा हो रहा है. इस तेजी का कारण बड़ी ही नहीं बल्कि छोटी कंपनियां भी हैं.

ऐसी ही एक कंपनी है Raghav Productivity Enhancers Ltd. बीते पांच सालों में इस कंपनी का प्रदर्शन जबरदस्त रहा है. बाजार में रजिस्टर होने के बाद से इसने निवेशकों को 2800% से ज्यादा का रिटर्न दिया है. इसका मतलब है कि जिन निवेशकों ने पांच साल पहले इस कंपनी में पांच लाख का निवेश किया होगा वह आज करोड़पति बन गए होंगे.

इस कंपनी की शानदार परफॉरमेंस ही वह वजह है जिसकी वजह से शेयर बाजार के दिग्‍गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला इस कंपनी में 31 करोड़ रुपये का निवेश करने जा रहे हैं. जानते हैं इस कंपनी ने पांच सालों में कैसा प्रदर्शन किया है.

5 साल में कंपनी का प्रदर्शन

News Reels

  • यह कंपनी करीब पांच साल पहले अप्रैल 2016 में शेयर बाजार में इनवेस्ट हुई थी.
  • उस वक्त इस कंपनी के शेयरों की कीमत 28.60 रुपये थी.
  • इसके बाद से इस कंपनी के शेयर लगातार ग्रो कर रहे हैं.
  • इन शेयर्स की कीमत 13 अगस्त को 790.30 रुपये प्रति शेयर तक पहुंच गई.
  • मतलब इन शेयर्स ने पांच साल में 2800 फीसदी से ज्यादा की तेजी दिखाई है.
  • अगर किसी ने 5 साल पहले 28.60 रुपये के हिसाब से 5 लाख रुपये का निवेश किया होता तो उसे 17483 शेयर मिलते. इन शेयर्स की वैल्यू आज 1.38 करोड़ रुपये हो गई है. यानी एक लाख रुपये के 28 लाख रुपये हो गए होते.
  • फिलहाल इस शेयर की कीमत 831 रुपये प्रति शेयर है.

डिस्क्लेमर: (यहां मुहैया जानकारी सिर्फ़ सूचना हेतु दी जा रही है. यहां बताना ज़रूरी है की मार्केट में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है. निवेशक के तौर पर पैसा लगाने से पहले हमेशा एक्सपर्ट से सलाह लें. ABPLive.com की तरफ से किसी को भी पैसा लगाने की यहाँ कभी भी सलाह नहीं दी जाती है.)

Rakesh Jhunjhunwala: राकेश झुनझुनवाला के इन 6 मंत्रों ने लाखों लोगों को बनाया मालामाल, बड़े काम के हैं ये टिप्स

Rakesh Jhunjhunwala Death: राकेश झुनझुनवाला भले ही अब इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन बाजार में उनकी बादशाहत और उनके इन्वेस्टमेंट के तरीके हमेशा मौजूद रहेंगे. उन्होंने समय-समय पर लोगों को शेयर बाजार में निवेश के कई मंत्र दिए. आइए जानते हैं ऐसे ही 6 मंत्र.

alt

5

alt

5

alt

5

alt

5

Rakesh Jhunjhunwala: राकेश झुनझुनवाला के इन 6 मंत्रों ने लाखों लोगों को बनाया मालामाल, बड़े काम के हैं ये टिप्स

Rakesh Jhunjhunwala Death: भारतीय शेयर बाजार के बिग बुल राकेश झुनझुनवाला अब हमारे बीच नहीं हैं. रविवार सुबह मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में उनकी मौत हो गई. वह काफी लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे थे. भारत के वॉरेन बफेट के नाम से मशहूर राकेश झुनझुनवाला बेशक हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन बाजार में उनकी बादशाहत और निवेश का उनका तरीका हमेशा लोगों के बीच रहेगा. उनका निवेश बाजार की चाल तय करता था. वह जिस कंपनी में नवेश करते थे उसके शेयर ऊपर चले जाते थे. उन्होंने लोगों को निवेश के संबंध में कई बार टिप्स भी दिए, जिन्हें फॉलो कर लाखों लोग मालामाल हुए हैं. आइए जानते हैं उनकी सफलता के मंत्र.

1. लॉन्ग टर्म पर फोकस

राकेश झुनझुनवाला हमेशा लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट की बात करते थे. वह मार्केट में आने वालों को कहते थे कि अगर यहां रहना है तो लंबी अवधि के लिए निवेश करें. वह कहते थे कि छोटी अवधि में ही मुनाफा कमाने की जगह निवेश को कई गुना बढ़ने के लिए समय देना चाहिए. झुनझुनवाला के मुताबिक, बाजार में पैसे को मेच्योर होने के लिए समय देना जरूरी है. वह निवेशकों से कहते थे कि बाजार में थोड़ा इंतजार करेंगे, तो रिटर्न निश्चित ही मिलेगा.

2. एक साथ सारी पूंजी न लगाएं

राकेश झुनझुनवाला हमेशा कहते थे कि कभी भी अपना सारा पैसा एक साथ बाजार में न लगाएं. हो सकता है कि आपके पास निवेश करने के लिए अच्छा पैसा हो, लेकिन सारा पैसा एक साथ न लगाएं. मुनाफा कमाने की चाह अच्छी है, लेकिन नियम यह कहता है कि थोड़ा-थोड़ा इन्वेस्टमेंट ही बेहतर रिटर्न की गारंटी देता है. वह सलाह देते थे कि किसी एक शेयर में पैसा लगाते वक्त अपनी निवेश रकम को हिस्सों में बांट लें और समय-समय पर खरीदारी करें. अगर शेयर में गिरावट आती है तो खरीदारी जारी रखें. इससे आपकी खरीद का औसत घट जाएगा.

3. कंपनी का कर्ज भी देखें

राकेश झुनझुनवाला किसी भी कंपनी में निवेश से पहले यह जरूर देखते थे कि उस कंपनी पर कर्ज कितना है. यही सलाह वह दूसरों को भी देते थे कि पैसा लगाने से पहले उस कंपनी के डेब्ट के बारे में जरूर पता करें. शेयर मार्केट में यह देखना होता है कि कंपनियों पर कितना कर्ज है. अगर कर्ज कम है तो कंपनियों पर कैश का दबाव नहीं होगा, लेकिन, अगर कर्ज ज्यादा है तो कंपनी की वैल्यूएशन में कभी भी उतार-चढ़ाव आ सकता है.

4. कैश सरप्लस भी देखें

राकेश झुनझुनवाला के इस टिप्स ने भी कई लोगों को मालामाल किया. वह कहते थे कि शेयर मार्केट में अगर कंपनी अच्छा प्रदर्शन कर रही है तो जरूरी नहीं कि वह आपको अच्छा रिटर्न दे. ऐसे में निवेश से पहले कंपनी का बैकग्राउंड चेक करना जरूरी है. वह कहते थे कि इस बात को जरूर देखें कि कंपनी ने कितना डिविडेंड दिया है. डिविडेंड शेयर मार्केट में काफी महत्व तो जानें महिला निवेशकों के लिए शानदार टिप्स रखता है. कंपनी अगर लंबे समय से नियमित तौर पर डिविडेंड दे रही है तो इसका मतलब है कि उसके पास कैश की कमी नहीं है.

5. कीमत नहीं, वैल्यू पर दें ध्यान

राकेश झुनझुनवाला कहते थे कि कभी भी कंपनी के शेयर की कीमत देखकर उसमें निवेश न करें. यह जरूरी नही कि जिस शेयर की कीमत अधिक है वह ज्यादा रिटर्न दे. कंपनी में निवेश से पहले उसके शेयर की कीमत नहीं, बल्कि उस कंपनी की वैल्यू देखें. अक्सर लोग ज्यादा कीमत वाले शेयर को खरीदने की गलती करते हैं, वह उसके पिछले प्रदर्शन को नहीं देखते. ऐसा कभी नहीं करना चाहिए.

6. दूसरों को देखकर पैसा न लगाएं

राकेश झुनझुनवाला अक्सर लोगों को सलाह देते थे कि शेयर मार्केट में कभी भी निवेश दूसरों को देखकर न करें. उनका कहना था कि शेयर बाजार में निवेश हमेशा सेफ नहीं होता. यहां रिटर्न बड़ा है तो रिस्क भी बड़ा है. इसलिए दूसरों को देखकर निवेश करने की जगह आप कंपनी के बारे में पूरा पता लगाएं और फिर उसमें निवेश करें. दूसरों को देखकर पैसा लगाने से इसलिए भी बचना चाहिए कि हो सकता है कि सामने वाले के पास अच्छा पैसा हो और वह घाटे को झेल ले, लेकिन आप पर सीमित पूंजी हो और वह डूब जाए तो दिक्कत हो सकती है.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

लॉकडाउन के दौरान शेयर बाजार में बढ़ी महिला निवेशकों की संख्या, देखिए क्या रही वजह

कोरोना संकट काल में जब पूरा देश लॉकडाउन की वजह से अपने घरों में कैद था, दुकान से लेकर मकान सबकुछ बंद थे, सिर्फ एक चीज थी जो चल रही थी, वो है शेयर मार्केट. कोरोना संकट काल में लाखों लोगों की नौकरियां गईं, तो किसी की सैलरी कटी, लेकिन घर के खर्चों में कटौती नहीं हुई.

  • शेयर बाजार में महिलाओं की भागीदारी बढ़ी
  • लॉकडाउन के दौरान बढ़ीं महिला निवेशक
  • ज्यादातर हाउस वाइफ और पहली बार निवेशक

alt

5

alt

5

alt

5

alt

5

लॉकडाउन के दौरान शेयर बाजार में बढ़ी महिला निवेशकों की संख्या, देखिए क्या रही वजह

नई दिल्ली: कोरोना संकट काल में जब पूरा देश लॉकडाउन की वजह से अपने घरों में कैद था, दुकान से लेकर मकान सबकुछ बंद थे, सिर्फ एक चीज थी जो चल रही थी, वो है शेयर मार्केट. कोरोना संकट काल में लाखों लोगों की नौकरियां गईं, तो किसी की सैलरी कटी, लेकिन घर के खर्चों में कटौती नहीं हुई. इस कोरोना संकट काल के दौरान जब कमाई के सारे रास्ते बंद हो गए, तब बड़ी तादाद में महिलाओं ने घर के खर्चों का बीड़ा उठाया और आ गईं दो-दो हाथ करने शेयर बाजार में.

कई ब्रोकिंग फर्म्स के साथ की गई एक रिसर्च में ये सामने आया है कि कोरोना काल में जब बैंकों के फिक्स्ड डिपॉजिट रेट घटने लगे तो महिलाओं को अब दूसरे विकल्पों की तलाश शुरू हो गई. सबसे दिलचस्प बात ये है कि जितनी भी महिलाएं शेयर बाजार में इस दौरान आईं, उनमें से ज्यादातर ने पहली बार शेयर मार्केट में निवेश किया है और उनमें से भी ज्यादातर हाउस वाइफ हैं.

Sharekhan के डायरेक्टर शंकर वैलया के मुताबिक 'लॉकडाउन के दौरान रीटेल भागीदारी बढ़ी है, इसमें महिलाएं भी हैं. महिलाएं अब गिरते FD रेट्स का विकल्प ढूंढ रही हैं. डिजिटल सॉल्यूशंस के जरिए कैपिटल मार्केट की अपनी समझ को बढ़ाने में लॉकडाउन ने उत्प्रेरक का काम तो जानें महिला निवेशकों के लिए शानदार टिप्स किया है.'

ऑनलाइन ब्रोकरेज हाउस Upstox का कहना है कि अप्रैल से जून 2020 के दौरान महिलाओं के खातों में 32 परसेंट की बढ़ोतरी देखी गई. अगर इसकी तुलना बीते 3 महीनों से की जाए तो इसमें से 70 परसेंट महिलाएं पहली बार बाजार में निवेश कर रही हैं. इसमें भी 35 परसेंट से ज्यादा घरेलू औरतें हैं.

Upstox के को-फाउंडर रवि कुमार का कहना है कि 'सैलरी में कटौती और छंटनी के चलते घर के खर्चों में हाथ बंटाने के लिए ज्यादातर औरतें ट्रेडिंग में आईं.' उन्होंने कहा कि 'सोने की बढ़ती कीमतों, फिक्स्ड डिपॉजिट की घटती ब्याज दरों और रियल एस्टेट इनवेस्टमेंट के कम होते रिटर्न ने महिलाओं को फिजिकल सेविंग से फाइनेंशियल असेट्स की ओर मोड़ा है.'

Upstox के मुताबिक 'करीब 74 परसेंट फीमेल कस्टमर टियर-2 और टियर-3 शहरों से हैं. इसमें विशाखापत्तनम, जयपुर, सूरत, नागपुर, नासिक, गुंटूर शामिल हैं. कुल महिला कस्टरमर्स में से, 55 परसेंट ट्रेडर्स हैं, 45 परसेंट इनवेस्टर हैं'

पिछले तीन महीनों से तुलना करें तो अप्रैल से जून 2020 के दौरान फीमेल कस्टमर्स में 53 परसेंट का उछाल देखा गया है.

Zerodha and True Beacon के को-फाउंडर निखिल कामत का कहना है कि 'उन्होंने 1 मार्च 2020 से अबत क11 लाख क्लाइंट्स जोड़े हैं. इसमें से 1.8 लाख महिलाएं हैं. इन महिलाओं की औसत उम्र 33 साल है. इसी तरह FYERS तो जानें महिला निवेशकों के लिए शानदार टिप्स के CEO तेजस खोड़े ने बताया कि बीते चार महीनों के दौरान 20,000 नए कस्टमर जोड़े हैं, जिसमें से 10 परसेंट महिला ट्रेडर्स हैं. लेकिन कुल ऑनलाइन ट्रैफिक में 15-20 परसेंट महिला ट्रेडर्स हैं. इसमें भी ज्यादातर ऐसी हैं जिनमें ट्रेडिंग से ज्यादा निवेश का रूझान दिखा है.'

रेटिंग: 4.69
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 318